कोका अभयारण्य में टी-13 बाघ के शिकार मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार

0
178

भंडारा :
Navegaon Nagzira Tiger Reserve नवेगांव नागझीरा टाइगर रिजर्व के कोका वन्यजीव अभयारण्य में मृत पाए गए नर बाघ टी-13 की मौत जहर से होने की खबर पोस्टमार्टम के बाद सामने आने से वनविभाग की जांच  मे तेजी आयी और उन्होने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया।
जिसमें वशिष्ठ बघेले खुर्शीपार/सालेभाटा तालुका लखानी का रहने वाला हैं और  नरेश बिसने और मोरेश्वर शेंदरे यह दोनों परसोडी तालुका लखानी में रहते हैं। खास बात यह है कि ये तीनों शिकारी नहीं बल्कि चरवाहे हैं।
टी-13 नामक बाघ का शव 26 मार्च 2023 को खुर्शीपार झील, कोका वन्यजीव अभयारण्य के जलग्रहण क्षेत्र के एक नाले में मिला था। इसमे दिलचस्प बात यह है कि बाघ के पिछले दोनों पैर टूटे हुए थे और पंजे गायब थे। आरोपियों के पास से बाघ के सात नाखून, मनका, पैर की हड्डी व अन्य सामग्री जब्त की गई है, जिन्हें 31 मार्च को प्रथम श्रेणी न्यायालय में पेश किया गया।
उक्त घटना की जाचं उपवनसंरक्षक जयराम गौडा, नवेगाव नागझिरा व्याघ्र राखीव क्षेत्र के उपसंचालक पवन जेफ, सहायक वनसंरक्षक रोशन राठोड के मार्गदर्शन में वनपरिक्षेत्र अधिकारी संजय मेंढे, गस्तपथक के वनपरिक्षेत्र अधिकारी सचिन नरळ के सहयोग से  कोका वन्यजीव अभयारण्य के वनपरिक्षेत्र अधिकारी महादेव माकडे एवं क्षेत्रीय कर्मचारी आगे की जांच कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here