ताडोबा अंधेरी टाइगर रिजर्व मे सिनेमा जगत से सम्राट सयाजी शिंदे ने किया बाघ के दर्शन

0
745

चंद्रपूर (मोहम्मद सुलेमान बेग) : भारतीय अभिनेता सयाजी शिंदे 30 अक्टूबर 2022 को रात लगभग 8 बजे विश्व प्रसिद्ध ताडोबा अंधेरी टाइगर रिजर्व में अपने दोस्तों के साथ ताडोबा के कैंप सराय टाइगर नाम रिसोर्ट में पहुंचे।

सयाजी शिंदे एक भारतीय अभिनेता हैं जिन्होंने तेलुगु, मराठी, तमिल, कन्नड़, मलयालम, अंग्रेजी, गुजराती, हिंदी, भोजपुरी फिल्मों और कई मराठी नाटकों में अभिनय किया है।  सयाजी ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत 1978 में मराठी वन-एक्ट नाटकों से की थी।
ताडोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प के मोहर्ली प्रवेश द्वार से और जूनोना प्रवेश द्वार से रात की सफारी का सयाजी शिंदे ने आनंद लिया। उन्होंने ताडोबा कोर क्षेत्र मे बाघ के दो बार दर्शन हुए और साथ ही सांबर, चितल, इंडियन गौर, जंगली कुत्ते, मुगुस और पंछियों के अलग अलग प्रजाती भी देखने मिला।
वन समाचार के मुख्य संपादक मोहम्मद सुलेमान बेग ने उनसे मुलाकात की तो उन्होंने कहा- “ताडोबा प्रशासन ने उचित व्यवस्था की है और साथ ही यहां नियमों का पालन किया जा रहा है। यह एक बहुत ही अच्छी बात है।जंगल हमें बहुत कुछ सिखाता है हमें उनसे बहोत कुछ सीखने मिला”
सयाजी शिंदे ने कैंप सराय टाइगर रिसोर्ट परिसर में 3 स्थानों पर नींबू के पेड़ लगाए, जहां तितलियां और पक्षीयो को घूमने मे मदत होगी।
रिसोर्ट मालक मुकुल राय ने कहा की मशहूर बॉलीवुड तथा मराठी एक्टर सयाजी राव शिंदेजी का मेजबानी करने का शुभ अवसर प्राप्त हुआ यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है उन्हें प्रकृति की गोद में बसा हमारा यह रिसोर्ट बहुत ही पसंद आया। यहां का प्राकृतिक वातावरण हरियाली पक्षियों की मधुर आवाजें और खासतौर से यहां का खाना उन्हें बहुत अच्छा लगा। हमारे रिसोर्ट मे सयाजी शिंदेजी को लाने वाले नेचर वॉक के अनुज खरे, पुणे ने किया है। इनका मैं आभारी हूं।

सयाजी शिंदे 01 नवंबर 2022 को सुबह करीब 11.30 बजे मुंबई के लिए रवाना हुए। उन्हे ताडोबा बहोत पसंद आया। रात को कभी रही थी नहीं तेरे को समझता नहीं कि 10 बार वही बात बोलना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here