ताड़ोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प क्षेत्र में वन्यजीव सप्ताह के दौरान जिप्सी एवं साइकिल रैली का आयोजन बड़े धूमधाम से किया गया

0
1244

चंद्रपूर (मोहम्मद सुलेमान बेग) :

ताड़ोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प क्षेत्र में हर साल की तरह, 1 अक्टूबर से 7 अक्टूबर तक वन्यजीव सप्ताह का आयोजन किया जाता है। इस वन्यजीव सप्ताह के दौरान, हम वन्यजीवों और उनके प्राकृतिक आवास के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने का संकल्प लेते हैं।
इस अवसर पर ताड़ोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प ने मोहर्ली गेट से जिप्सी रैली का आयोजन किया गया।

इस जिप्सी रैली का मुख्य उद्देश्य था कि लोगो मे वन्यजीवों के प्रति जागरूकता बढ़ा सकें। इस रैली का मार्ग मोहर्ली गेट से लेकर मुधोली गाँव तक, जो कि 11 किलोमीटर क्षेत्र है। इस मार्ग पर भामडेली, सितारामपेठ, कोंडेगाव और मुधोली जैसे 4 गाँव आते हैं। साथ ही खुंटवडा गेट से  मुधोली गाव तक  जिप्सी रॅली का आयोजन किया गया था।

इस अवसर पर मोहर्ली (कोर) वनपरिक्षेत्र अधिकारी अरुण गोंड, क्षेत्र सहाय्यक विलास सोयाम, वनरक्षक पंकज टेकाम, स्नेहा महाजन, एम. ए. अन्सारी, रितेश वानखेडे, एस.आर.घुगरगुडे, एस. डी. मरस्कोले, मोहर्ली गेट के जिप्सी चालक मालक एवं पर्यटक मार्गदर्शक आदी बडी संख्या मे मौजूद थे।

सायकल रॅली

वन्यजीव सप्ताह के अवसर पर मोहर्ली वनपरिक्षेत्र  अधिकारी (बफर) के एस.आर. थिपे ने मोहर्ली बफर की नवरगांव चौकी से लेकर मोहर्ली गांव तक साइकिल रैली आयोजित की गई थी।

वन्यजीव सप्ताह के अवसर पर मानव गतिविधियों जैसे की वनों की कटाई, प्राकृतिक आवास की नष्टि, प्रदूषण, और खतरों के खिलाफ लड़ाई के लिए साइकिल रैली का आयोजन किया गया था।
इस सायकल रॅली मे चंद्रपूर के वन्यजीव प्रेमी, बाहर से आये पर्यटक, पर्यटक मार्गदर्शक, महिला गाईड, मोहर्ली ग्रामपंचायत के सरपंच सौ. सुनीता कातकर,  क्षेत्र सहाय्यक मोहर्ली एस.डी. जुमडे, वनरक्षक ए.के. राठोड, कु. एम.टी. बुरडकर, एस. एम. मंगाम,  एस. आर. पेद्दीवार, व्ही. के. जनबंधू आदी बडी संख्या मे मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here