सिंदेवाही वनपरिक्षेत्र  में विद्युत करंट से हाथी की दुखद मृत्यु

0
1319

चंद्रपूर (मोहम्मद सुलेमान बेग): ब्रह्मपुरी वनविभाग के तहद सिंदेवाही वन परिक्षेत्र के उपक्षेत्र, सिंदेवाही नियतक्षेत्र, लोनखौरी मौजा, चिटकी गांव में, कक्ष क्र. 247 RF के सीमा क्षेत्र में आज 3 अक्टूबर 2023 को सुबह 7:30 बजे के आसपास, जंगली हाथी (नर) की आयु करीब 30 से 35 वर्ष की है जो मृत अवस्था में पाया गया है।

पिछले कई दिनों से सिंदेवाही वन परिक्षेत्र में जंगल से सटे हुए खेत में अपने झुड़ से बिछड़े एक हाथी को करंट लगने से मौके पर मौत हो गई है। खेतों में जंगली जानवरों के हानिकारक प्रभाव से पिकों की सुरक्षा के लिए किसान बिजली का करंट लगाते हैं।
ऐसे ही एक खाजगी खेत के पास से गुजरते वक्त विद्युत करंट के स्पर्श से ही हाती की मौत होने की प्राथमिक जानकारी मिली है।

उक्त घटना की जाचं डॉ. रविकांत खोब्रागडे, पशुवैद्यकीय अधिकारी (वन्यजीव) ताड़ोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प, चंद्रपूर, डॉक्टर सुरपाम पशुधन विकास अधिकारी सिंदेवाही, और डॉक्टर शालिनी लोंढे पशुधन विकास अधिकारी सिंदेवाही के द्वारा हाथी की शव विच्छेदन किया गया।

इसके बाद डॉ. जितेंद्र रामगावकर मुख्य वनसंरक्षक, चंद्रपूर वनवृत्त, चंद्रपूर, दीपेश मल्होत्रा उप वनसंरक्षक, ब्रह्मपुरी, और अन्य वनअधिकारी एवं बंडू धोतरे मानद वन्यजीव रक्षक, विवेक करंबेकर, प्रधान मुख्य वनसंरक्षक (वन्यजीव) महाराष्ट्र राज्य, उनके प्रतिनिधित्व में हाथी के दांत और अन्य शरीरिक अंगों का दफन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here