ताडोबा बफर का नर बाघ खली इलाज के लिए गोरेवाड़ा स्थानांतरित

0
204

आज 09 मई 2021 रोज शामको एक पूर्ण विकसित नर बाघ (खली) को ताडोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प के आगरझरी बफर में पाया जाने वाला बाघ को  पीछे के अंगों में पैराप्लेजिया के कारण वह चल नहीं पा रहा था। उस नर बाघ को शांत कर उसे अब इलाज के लिए पिजरे में नागपुर के गोरेवाड़ा रेस्क्यू सेंटर में स्थानांतरित किया गया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here