नामीबिया की राजधानी विंडहोक से 5 मादा और 3 नर चीतों को भारत के विशेष विमान से लाया जाएगा

0
407

दशकों के इंतजार के बाद भारत में फिर से चीता दिखाई देगा। नामीबिया के साथ एक समझौते के तहत 17 सितंबर 2022 को 8 चीतों को भारत लाया जा रहा है इस मे 5 मादा और 3 नर चिंता है और इसी दिन प्रधानमंत्री मोदीजी का जन्मदिन भी है। भारत मे चिता का इसी दिन वापसी को प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन का तोहफा बताया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदीजी की मौजूदगी में कुनो नेशनल पार्क में सभी चीतों को छोड़ा जाएगा।

अब इन चीतों को लाने के लिए भारत का विशेष विमान पर चीते का मुंह का डिजाइन किया गया है जो देखने में काफी आकर्षक नजर आ रहा है। नामीबिया इन चीतों को लाने को पहुंच चुका है।
सूत्रों के मुताबिक, ये 8 चीते 17 सितंबर 2022 की सुबह जयपुर में उतरेंगे और वहां से उन्हें हेलीकॉप्टर से कुनो नेशनल पार्क लाया जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने नामीबिया से चीतों को लाने के लिए 2020 में हरी झंडी दे दी थी। फिलहाल सरकार ने इस पूरे प्रोजेक्ट के लिए 91 करोड़ का बजट रखा है।
अफ्रीकी टीम ने भी भारत का दौरा कर तैयारियों का जायजा लिया था और वह तैयारियों से संतुष्ट हुए।   वन्यजीव वैज्ञानिकों के अनुसार भारत मे चीतों की आबादी को बनाए रखने के लिए कुल 35-45 चीतों की आवश्यकता है। इसलिए अगले 5 वर्षों तक हर साल 4 से 8 चीतों को भारत लाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here