1947 के बाद देश के कुनो पालपुर नेशनल पार्क में दिखाई देंगे चीता

0
172

भारत में चीता 1947 में देखा गया था जब राजा रामानुशरण के शासन काल के दौरान चीता के साथ उसकी तस्वीर खींची गई थी। भारत सरकार ने 1952 में घोषणा कि भारत में चीता विलुप्त हो गया है।
अब 73 साल बाद, NTCA ने मध्यप्रदेश के कुनो पालपुर राष्ट्रीय उद्यान में अफ्रीका के 14 चीता के पुनर्वास को मंजूरी दी है।
बड़ा शरीर लंबी पतली टांगों और लंबी पूंछ वाला अधिक फुर्तीला चित्ता जो तेंदुए जैसा दिखता है। चीता अफ्रीका और मध्य ईरान की एक प्रजाति है जो लगभग 80 से 128 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने में सक्षम सबसे तेज जमीन वाला जानवर है। भारत में फिर से देखने को मिलेगा जो जंगल की सुंदरता को बढ़ाएगा।
NTCA ने चित्ता के लिए आवश्यक वनों, वन आवरण और जलवायु का अध्ययन करके झारखंड और राजस्थान को छोड़कर मध्यप्रदेश में कुनो पालपुर राष्ट्रीय उद्यान को मंजूरी दी है।
वन अधिकारियों ने कहा कि उच्च न्यायालयने NTCA का मार्गदर्शन करने के लिए तीन सदस्यीय समिति भी गठित की है। केंद्र सरकार ने इसके लिए 14 करोड़ रुपये देने का फैसला किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here