बाघ के हमले में चरवाहे की मौत

0
205

जिला प्रतिनिधि (यश कायरकर),

भंडारा जिले के पवनी तालुका के गुडेगांव निवासी सुधाकर कांबले (45)  यह दोपहर 2.30 बजे के करीब अपनी बकरियां चराने जंगल से सटे परिसर मे गया था तभी परिसर में मौजूद बाघ ने हमला कर मार गिराया।
उक्त घटना  पवनी वनपरिक्षेत्र  के वन क्षेत्र सावरला  बीट गुडेगांव, कक्ष क्र. 238 संरक्षित जंगल में हुई ।
उक्त घटना की जानकारी उनके भाई सुभाष चिंतामन कांबले गुड़ेगांव ने सबसे पहले वनविभाग को दी।
जानकारी मिलते ही वनविभाग के कर्मचारी घटना स्थल पर पहुंचकर मौका पंचनामा कर शवविच्छेदन के लिए पवनी के सरकारी ग्रामीण अस्पताल ले जाया गया।
इस अवसर पर राहुल गवई उप वनसंरक्षक, वन विभाग भंडारा,  वाई.बी. नागुलवार सहायक वनसंरक्षक (रोयो और वन्यजीव) वनविभाग भंडारा,  साकेत शेंडे सहायक वनसंरक्षक भंडारा, एच. डी.बारसागडे वन परिक्षेत्र अधिकारी (प्रा),  मेंढे वनपरिक्षेत्र अधिकारी भंडारा, NTCA प्रतिनिधि पंकज देशमुख एवं प्रतिनिधि पावनी डी. एस.वावरे वनपाल सावरला, के.एस.पी. घुगे वनरक्षक गुडेगांव, एक.पी. झंझाड वनसंरक्षक धनोरी, कु.वि. बी.गजभिये वनरक्षक निष्ठी, बी.एस. मांजलवाड वनरक्षक सावरला, एम.एस. मांजलवाड वनरक्षक  शिरसाडा, आर.बी.घुगे वन रक्षक कन्हलगांव,  अन्य वन कर्मचारी एवं वन मजूर उपस्थित थे।
वनविभाग की ओर से मृतक की पत्नी को तत्काल 25,000/- रूपये की नकद राशि एवं 10,00,000/- रूपये का चेक प्रदान किया गया।
इस तरह की घटनाए टालने के लिये , पवनी वन क्षेत्र के अंतर्गत जंगल में जाने के दौरान सावधानी बरतने और मानव- वन्यजीव संघर्ष से बचने तथा जंगली जानवरों से सावधान रहने और यदि संभव हो तो जंगल में जाने से बचने के संबंध में वनविभाग पवनी के माध्यम से गांव के लोगो को सुचीत किया गया.
उक्त मामले की आगे की जांच मा. श्री। आर। बी। गवई साहब संरक्षक वन विभाग भंडारा एवं मान. श्री। वाई बी। नागुलवार साहेब सहायक वन संरक्षक (रोहियो और वन्यजीव) वन विभाग भंडारा के मार्गदर्शन में .एच. डी. बारसागाडे का कार्य वनपरिक्षेत्र अधिकारी (प्रा.) द्वारा किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here