ऑनलाइन ताडोबा सफारी बुकिंग की आड़ में धोखाधड़ी का खुलासा ” “एक आरोपी गिरफ्तार”

0
689

चंद्रपूर (मोहम्मद सुलेमान बेग):

हालही मे ताडोबा सफारी वेबसाईट देखने वाला रोहित ठाकूर पर करोडो रुपये की धोखाधड़ी का मामला वनविभाग ने रामनगर पोलीस स्टेशन मे दर्ज किया था। अभी तक वह मामला उजागर हुआ नहीं तो और एक धोखाधड़ी का मामला ताडोबा मे सामने आया है।

ताडोबा सफारी करने आये सैलानी मनीष प्रभाकर बावसकर, उम्र (54) वर्ष, व्यवसाय नौकरी (वित्त विभाग) औरंगाबाद निवासी ने पुलिस स्टेशन दुर्गापुर में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कि,
ताडोबा सफारी बुकिंग एजेंट केयुज कडुकर, चंद्रपुर निवासी ने फोन पर 18 लोगों के लिए ताडोबा सफरी की ऑनलाइन टिकट बुकिंग करने के लिए  सैलानी मनीष प्रभाकर बावसकर से दि. 25 मार्च 2023 को 25,500/- रु लिए और 27 मार्च 2023 को 3000/- रु. और 14 एप्रिल 2023 को 10,400/- रु ऐसे कुल रु.38,900/- रु. फ़ोन पे (phone pay) के माध्यम से भुगतान भेजकर माहे जून 2023 को ताडोबा सफारी की बुकिंग की पुष्टि की गई।
लेकिन अपरिहार्य कारणों से आरोपी  केयुज सफारी बुकिंग के लिए नहीं आ सका। उक्त राशि केयुज कडुकर के पास जमा की गई थी।
उसके बाद फिर और सफारी बुकिंग के लिए आरोपी केयुज को दि.18 नोव्हेंबर 2023 को Google Pay के माध्यम से 5000/- रु. दिया गया। ताडोबा सफारी बुकिंग 27 जानेवारी 2024 को भेजकर पुष्टि की गई।
दि. 27 जानेवारी 2024 को सैलानी मनीष अपने रिश्तेदार ताडोबा सफारी के लिए मोहुर्ली गेट गए और जब उन्होंने बुकिंग काउंटर पर टिकट दिखाया तो वनविभाग के कर्मचारी ने बताया कि उक्त सफरी टिकट फर्जी है। साथ ही,आरोपी सफारी एजंट केयुज कडुकर ने दि. 06 जानेवारी 2024 को राकेश कुमार मोतीलाल वाजपेयी उम्र (58) वर्ष, मुंबई से है उनसे भी ताडोबा सफारी के 4 ऑनलाइन टिकट बुकिंग के किए Google Pay के माध्यम से 22,500/- रुपये लिए। ऐसे करके मनीष प्रभाकर बावसकर और राकेश कुमार वाजपेई इन दोनों से 66,400/- रु. की ताडोबा सफारी बुकिंग के नाम पर धोखाधड़ी करने पर पोलिस स्टेशन दुर्गापुर में अपराध क्र. 26/2024 आईपीसी की धारा 420 के तहत सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 की उप धारा 66 (D) के तहत दर्ज किया गया है।
उक्त अपराध की जांच में  रवीन्द्रसिंह संतोषसिंह परदेशी साहब पुलिस अधीक्षक चंद्रपुर, मा.रीना जनबंधु मॅडम अपर पुलिस अधीक्षक चंद्रपुर, मा.  सुधीर नंदनवार, उपविभागीय पुलिस अधिकारी साहेब चंद्रपुर के मार्गदर्शन में पुलिस स्टेशन दुर्गापुर अपराध जांच टीम, प्रवर्तकों, साइबर सेल के पुलिस अधिकारियों और पुलिस कर्मियों की मदद से एक टीम का गठन किया गया और आरोपी केयूज दत्ता कडुकर का पता लगाया गया और उसे  हिरासत में लिया गया है।

मान. पोलिस निरीक्षक लता एस.वाडीवे के साथ गिरीश मोहतुरे, स.फौ. खुशाल खेडेकर, पोलिस हवालदार योगेश शार्दुल, नापोशि योगराज काळसर्प, पोलिस शिपाई प्रमोद डोंगरे, मनोहर जाधव, मंगेश शेंडे ने सफल कार्यवाही की और आगे की जाचं मान.पोलिस निरीक्षक लता एस.वाडीवे यह कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here