ब्रह्मपुरी वन क्षेत्र में स्वाब नेचर केयर संस्था के स्वच्छता मित्रों ने सफलतापूर्वक चलाया ‘प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण अभियान ; प्रदूषण से मुक्त कराया ब्रह्मपुरी का पर्यटन क्षेत्र

0
181

चंद्रपूर : स्वाब नेचर केयर संस्था के स्वच्छता मित्र ने ब्रह्मपुरी वन मंडल ब्रह्मपुरी के अंतर्गत चिमूर वन क्षेत्र के पर्यटन क्षेत्र में प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण अभियान चलाकर प्लास्टिक मुक्त बनाया है।
पर्यावरण सुरक्षा और संरक्षण में अग्रणी स्वैब संस्था वन पर्यावरण से ‘प्लास्टिक प्रदूषण’ को हटाने के लिए पिछले आठ-दस वर्षों से अथक प्रयास कर रहा है, जो पर्यावरण और वन्यजीव सुरक्षा के लिए खतरा है, ताकि वन्यजीवों के आवास को सुरक्षित किया जा सके। बनाया था।  प्लास्टिक मुक्त, ऐसा करने से वन्यजीवों को सुरक्षित जीवन मिल सकता है।  पूरे क्षेत्र को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए संगठन को जंगल के आसपास के क्षेत्रों, धार्मिक स्थलों, पर्यटक स्थलों, वन पथों, झीलों में ‘प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण अभियान’ चलाना चाहिए और हर महीने जंगल में अलग-अलग स्थानों पर जाकर प्लास्टिक कचरा इकट्ठा करना चाहिए।  क्षेत्र।  चादरें, प्लास्टिक की बोतलें, शराब की बोतलें, प्लास्टिक की थैलियां, प्लास्टिक कचरे को एकत्रित और निपटान करता है।

इसके तहत चिमूर वनक्षेत्र के तीनों पर्यटन स्थलों पर जाकर प्लास्टिक कचरे को एकत्र कर प्लास्टिक मुक्त बनाया गया।
वहीं संस्था के स्वच्छता मित्रों ने वहां आने वाले पर्यटकों से अनुरोध किया कि “यदि आप प्लास्टिक कचरा उठाने में हमारे साथ नहीं जुड़ सकते हैं, तो कम से कम घर से लाई गई प्लास्टिक की बोतलों सहित प्लास्टिक कचरा किसी भी धार्मिक स्थल या वातावरण में न फेंकें। प्लास्टिक बैग अपने साथ रखें और उनका घर पर ही निपटान करें। यह हमारे लिए है और इससे पर्यावरण को भी बहुत मदद मिलेगी।

इस अवसर पर इस प्लास्टिक मुक्त कार्य में तलोधी, सावरगांव, खडकी, घोडाझरी, वाढ़ोना, किटाली से संस्था के स्वच्छता मित्र, जीवेस सयाम, यश कायरकर, नितिन भेंडाले, छत्रपति रामटेके, गिरिधर निकुरे, विनोद लेंनगुरे, कैलास बोरकर, प्रशांत सहकर, वेद प्रकाश मेश्राम, शुभम निकेशर, क्रुणाल रामटेके, अमन करकाडे, पुंडलिक नागोसे, शुभम सुरपम, कुणाल जेंगाठे, हर्षवर्द्धन रंधाये, गणेश गुरनुले  और वनविभाग के वनरक्षक बुरले, सोनुने, गायकवाड़, वनरक्षक  क्षेत्र सहायक पोरटे और कुछ वन मजदूरों आदि ने इस स्वच्छता मोहिम में सहयोग दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here