कच्चेपार में बाघ के हमले में चरवाहे की मौत

0
144

चंद्रपूर : (मोहम्मद सुलेमान बेग)
सिंदेवही वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले उपक्षेत्र सिंदेवही बिट  (कच्चेपार) गट क्र.  147 में चरवाहे बाबूराव लक्ष्मण देवतळे (56)वर्षीय जंगल से मवेशी चराकर घर लौट रहे थे, तभी शाम 5.30 बजे के करीब एक बाघ ने उन पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया.
उक्त घटना में घायल हुए चरवाहे का नाम बाबूराव देवतळे है और वह रोज की तरह जंगल में मवेशी चरा रहा था.  23 फरवरी 2023 की शाम को बाबूराव मवेशी चराकर घर लौट रहे थे अचानक बाघ ने उनपर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया ।
पास के खेत से सुखे घास की गठरी लेकर जा रहे कच्चेपार निवासी संजय रामदास नैतम को जोर जोर से की चीखने आवाज सुनाई दी, तभी उन्होने सुखे घास की गठरी को मौके पर ही फेंक दी और आवाज की ओर भागा।
उसने देखा कि बाघ ने चरवाहा बाबूराव को पकड़ लिया है तो वह चिल्लाया और गांव  मे फोन कर घटना की जानकारी दी। जैसे ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे बाघ वहां से निकल गया।
घटना की सूचना जब ग्रामीणों ने वनविभाग को दी तो वनरक्षक कोहाड़े व ग्रामीण मौके पर पहुंचे और खून से लथपथ बापुराव को तत्काल प्राथमिक उपचार के लिए सिंदेवही अस्पताल में भर्ती कराया गया।
इस अवसर पर वन विभाग की ओर से उपक्षेत्र अधिकारी हटवार ने परिजनों को 5000 रुपये की तत्काल आर्थिक सहायता सौंपी।
उसकी हालत गंभीर होने पर उसे बेहतर इलाज के लिए चंद्रपुर के शासकीय चिकित्सालय ले जाते हुई ही मौत हो गयी और मुल चिकित्सालय मे शवविच्छेदन कीया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here