पतंग मांजा से घायल पंछी को इको-प्रो ने दिया जीवनदान

0
273

चंद्रपुर :

चंद्रपुर शहर के बिनबा गेट के पास आसमान में  उड़ता  पंछी चायना मांजा से लटक कर गिरा। पास में ही पतंग उड़ाते बच्चे ने छत से जैसे ही बच्चों ने छत पर पतंग उड़ाते देखा तो पंछी को पकड़ा । जलकौवा ( Great Cormorent) नामक पंछी के  दोनो पंख चायना मांजा हिलकने  से वह घायल हुआ था। एक बडा पंछी होने से आसपास के लोगों की उसे  देखने के लिए एक ही भीड़ उमड़ पड़ी।

इको-प्रो को इसकी जानकारी दिए जाने के बाद, इको-प्रो बर्ड प्रोटेक्शन डिपार्टमेंट के सदस्यों ने इलाके में जाकर बिनबा गेट इलाके में ‘राजू येल’ की वजह से पंछी  घर की छत पर सुरक्षित रखा था । उसे हिरासत में ले लिया गया और उसके पंखों में फंसी मांजा को निकाल कर उसका इलाज किया गया। उसे आज 14 जानेवारी 7 सुबह इरई नदी पुल से छोड़ा गया।  कुछ दिनों  पहले से ही पंछियों को बचाया था।
इस वक्त ईको-प्रो के सचिन धोत्रे, नितिन रामटेके, प्रमोद मलिक, कपिल चौधरी, स्वप्निल रागित, अमोल उत्तरलवार आदि प्रकृति को बचाने और घायल पंछियों मुक्त करने के लिए काम कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here